प्रश्नावली और अनुसूची में अंतर

अनुसूची तथा प्रश्नावली दोनों ही सामाजिक सर्वेक्षण एवं अनुसंधान में तथ्य संकलन की महत्वपूर्ण विधियां हैं। यह दोनों एक दूसरे की पूरक मानी जाती हैं।

अनुसूची और प्रश्नावली में समानताएं

1. अनुसूची और प्रश्नावली दोनों ही अध्ययन विषय से संबंधित प्रश्नों का एक व्यवस्थित समूह होती है।

2. दोनों के ही द्वारा प्राथमिक सूचनाएं संकलित की जाती है।

3. दोनों की शब्द रचना एवं प्रश्नों की भाषा में पर्याप्त समानता होती है।

4. दोनों के प्रश्न निर्माण में समान सावधानियां रखी जाती है।

5. दोनों ही वाक्य रचना, आकृति, लंबाई, रूप रंग तथा कागज में समानता पाई जाती है।

6. दोनों का उद्देश्य अध्ययन विषय के बारे में गुणात्मक एवं संख्यात्मक तथ्यों का संकलन करना है।


Prashnawali evn anusuchi mein antar bataiye | प्रश्नावली एवं अनुसूची में अंतर बताइए

1. प्रयोग विधि— अनुसूची का प्रयोग अनुसंधानकर्ता स्वयं सूचनादाता से प्रश्न पूछता और भरता जाता है, जबकि प्रश्नावली को सूचना दाता के पास डाक द्वारा भेजा जाता है और पुनः डाक द्वारा ही लौटाया जाता है।

2. सूचनादाता से संपर्क— अनुसूची को भरने के लिए अनुसंधानकर्ता को स्वयं सूचना दाता से प्रत्यक्ष संपर्क करना पड़ता है, लेकिन प्रश्नावली में संपर्क नहीं किया जाता, वह तो डाक द्वारा भेजी जाती है।

3. अध्ययन क्षेत्र— अनुसूची का प्रयोग छोटे एवं सीमित क्षेत्र में स्थानीय स्तर पर किया जाता है, लेकिन प्रश्नावली का प्रयोग विशाल एवं बड़े क्षेत्र के लिए किया जाता है जहां प्रश्नावलियों को डाक द्वारा भेजा जा सकता है।

4. सूचना प्राप्ति— अनुसूची के प्रश्नों का उत्तर अनुसंधानकर्ता सूचना दाता से पूछ कर स्वयं भरता है, लेकिन प्रश्नावली में यह संभव नहीं है।

5. अध्ययन की गहनता— अनुसूची द्वारा प्राप्त सूचना विस्तृत एवं विश्वास करने योग्य नहीं होती है क्योंकि अध्ययन करता की उपस्थिति के कारण प्रश्नों से संबंधित कठिनाई समझा दी जाती है , लेकिन प्रश्नावली द्वारा मोटी मोटी बातें ही ज्ञात हो सकती है।

6. प्रश्न का उत्तर— अनुसूची में प्रश्नों की रचना अनुसंधानकर्ता ही करता है, लेकिन प्रश्नावली में सूचनादाता करता है।

7. शिक्षा के आधार पर— अनुसूची का प्रयोग शिक्षित और अशिक्षित दोनों प्रकार की सुविधा के लिए किया जा सकता है, लेकिन प्रश्नावली केवल शिक्षित लोगों के लिए ही प्रयोग में लाई जाती है।

8. निर्देशन— अनुसूचित अध्ययन करने के लिए चुना गया निदर्शन अधिक प्रतिनिधित्व का होता है। लेकिन उसमें शिक्षित और अशिक्षित सभी प्रकार के सूचनादाता हो सकते हैं, जबकि प्रश्नावली में केवल शिक्षित सूचनादाता का ही चयन किया जाता है।

9. व्याख्यात्मक टिप्पणियां— प्रश्नावली में अनुसंधानकर्ता उपस्थित नहीं होता है इसके कारण तकनीकी शब्दों तथा इकाइयों को समझने की आवश्कता होती हैं, लेकिन अनुसूची में यह संभव नहीं है और इनकी आवश्यकता भी नहीं होती है।

10.  समय, श्रम एवं धन— अनुसूची द्वारा किसी क्षेत्र का अध्ययन करने में अधिक समय एवं धन की आवश्यकता होती है, लेकिन प्रश्नावली में समय व धन की कम आवश्यकता होती है आवश्यकता होती है।

11. पक्षपात— अनुसूची में अनुसंधानकर्ता सूचना लिखने में अपनी राय दे सकता है और सूचनादाता के विचारों को भी प्रभावित कर सकता है, लेकिन प्रश्नावली में सूचनादाता स्वतंत्र रूप से अपने विचार व्यक्त करता है और उसमें पक्षपात आने की संभावना नहीं रहती है।

12. प्रत्युत्तर का प्रतिशत— अनुसूची द्वारा प्राप्त प्रत्युत्तर की संभावना शतप्रतिशत होती है, लेकिन प्रश्नावली में प्रतिशत बहुत प्रयत्न करने पर भी 50 से अधिक नहीं हो पाता।

13. अवलोकन— अनुसूची का प्रयोग करने के दौरान अवलोकन भी किया जा सकता है, लेकिन प्रश्नावली में अवलोकन नहीं किया जा सकता है।


निष्कर्ष:—

अनुसूची और प्रश्नावली में अंतर के आधार पर किसी एक को दूसरे से श्रेष्ठ नहीं माना जा सकता। इसका संबंध अध्ययन क्षेत्र, सूचनादाताओं की प्रकृति एवं उपयोग की भिन्नता से है, और इन्हीं के आधार पर हमें तय करना होगा कि कौन सी विधि को अपनाया जाए। भारत जैसे देश में जहां शिक्षा का अभाव है और संस्कृतिक भिन्नता बहुत है। अनुसूची का प्रयोग अधिक फायदेमंद होता है, विभिन्न विद्वानों ने अलग-अलग अध्ययनों में दोनों को ही उपयोगी माना है।


इन्हें भी पढ़ें:_

Comments

  1. Yes, sir aapke answers meri bahot help kar rahe hain,
    Mera naam muskan hai mai raipur chhattisgadh se hun.
    Mai class 11 commerce me hun.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Ok' Is site ka main maxad hi logon ki Help karna hai

      Delete
  2. Sir aap agar classes lete hain to plz mai join karna chahti hun aap mujhe reply karen

    ReplyDelete
    Replies
    1. Thik hai, lekin abhi fhilhal main koi Classes nahi leta hun, lekin agr aap Free me Class Join karna chahte hain to aap YouTube par Search kar sakete hain,
      Thankyou ❤️❤️ & Have a good day...

      Delete
  3. Mene abhi tk kafi questions ke answer dhund liye hi or mughe apki site se kafi fayda bhi ho rha hai

    ReplyDelete
    Replies
    1. Thankyou have a Good Day 💐💐..
      Ham aage bhi isi tarah se aap sabki Help karte rahenge.. aap isi tarah se aage badhte rahiye aur padhte rahiye..

      Delete
  4. Wow this is very helpful information 👌👌👌👌🙏🙏

    ReplyDelete
  5. Answer shih hair ki nhi

    ReplyDelete
  6. Anonymous25 May, 2023

    Sir i will join you

    ReplyDelete
  7. Sentence is not clear properly so please focus on grammar error

    ReplyDelete
    Replies
    1. Ok this will be rectified as soon as possible.

      Delete
  8. Prasnawli and anusuchi ka difference btaho

    ReplyDelete

Post a Comment

आप जिस उद्देश्य से यहाँ आए हैं उसे पूरा करने के लिए मैंने मेरी ओर से पूरी कोशिश की है, सुझाव या सिकायत के लिए Comment करें, - Nikita Sharma